Rahat indori shayari in hindi | Rahat indori shayari

Rahat indori shayari in hindi | Rahat indori shayari


Rahat indori shayari

Rahat indori shayari in hindi | Rahat indori shayari hindi



तन्हाई का आलम है,
 व्यस्त दिखना जरूरी है..।।


जब फीके लगने लगे सोलह ऋंगार
     तब सत्रहंवा श्रृंगार बन कर 
मैं तेरी खूबसूरती को निखारता रहुँगा ।


 जब भी गुफ्तगू करता हूं,।
 नई कहानी सुना देती है,
 जिंदगी फिर से सपने, 
 बुनकर जीना सिखा देती है,!!

 


ये दायरे ये बंदिशे किसी और पे थोपो,
मैं हवा का झोंका हूं  मुझे आवारगी पसंद है।


रब ना करे इश्क की कमी किसी को सताए,
प्यार करो उसी से जो तुम्हें,
दिल की हर बात बताए


Rahat indori sher


खुद को इतना भी न बचाया कर,
 बारिशे हो तो भीग जाया कर..!!


लोग दूसरों का, दिल तोड़ कर,
सजदों में अपनी  खुशी केसे मांग लेते।।


इज्जत और रक्षा किया करो बहनों की,
क्या फर्क पड़ता है अपनी हो या गैरों की.. !


तुम्हरे सपनों की दुनिया में खोना है,
आंखें बंद करके आराम से सोना है!


कुछ दोस्त जुदा हो गए
तो कुछ खुदा हो गए,
कुछ गुमशुदा हो गए
तो कुछ शादीशुदा हो गए ।

Rahat indori ki shayari


जिंदगी की किताब में सबसे हसीन पेज,
मां की मोहब्बत ही है ।


बिमार ने  किसी को याद करके मुस्कुरा दिया,
दुनिया ने समझा यह दवाओं का असर है..।।


तुम्हें लिखते हैं तो अल्फाज
कम पड़ जाते हैं,
और तुमसे मिलते हैं तो
वक्त कम पड़ जाता है...।।


हमने उनसे जरा सा 
इश्क मांगा था,
उन्होंने मुस्कुरा के 
गले लगा लिया..।।


सुना रहे थे वो
अपनी वफाओं के किस्से,
हम पर नजर पड़ी तो 
खामोश हो गए.

Dr Rahat indori shayari


नाराजगी मुझसे ऐसे भी
जताती थी वो,
खफा जिस रोज होती
काजल नहीं लगाती थी वो.


लोग पूछते हैं हमसे की
तुम कुछ बदल गए हो,
बताओ टूटे हुए पत्ते अब
रंग भी ना बदले क्या.


डर सा लगता है 
तेरे शहर जाने पे,
तेरे नाम का जख्म
अभी भी हरा  है..।


इश्क,  मोहब्बत,  प्यार,  इबादत
सब कहने की बातें हैं,
चाहिए अगर सुकून जिंदगी में,
तो इनसे दूरी रखिए.


जिस्म देने से अगर 
मोहब्बत साबित होती हो,
तो एक वैश्या ना जाने कीतने 
  लोगों की मोहब्बत होती..।


Rahat indori love shayari


आईने के सामने खड़े होकर
खुद से माफी मांग ली मैंने,
सबसे ज्यादा अपना ही 
दिल दुखाया है,
 सबको खुश करते करते.


 तुम्हें पाने की जिद थी 
अब भुलाने का ख्वाब है,
ना जिद पूरी हुई और 
ना ही ख्वाब


झूठी मोहब्बत 
वफा के वादे,
कितना कुछ करते है लोग
सिर्फ वक्त गुजारने के लिए,


किसी ने थोड़ा सा अपना 
वक्त दिया था मुझे,
मैंने आजतक उसे इश्क़ 
समझ कर संभाल रखा है़.


तबाह होकर भी तबाही नहीं 
दिखती,ये मोहब्बत है हुजूर,
जीसकी कोई दवाई 
नहीं बिकती.

Rahat indori shayari hindi


पूछा ऊपर वाले से मैंने कि 
मेरी मोहब्बत अधूरी क्यों लिखी,
वह भी कहकर रो पड़ा, 
मुझे भी राधा कहाँ मिली.


किसी की आदत हो,
जाना
मोहब्बत से भी ज्यादा,
खतरनाक है

नजाकत तो देखिए जनाब 
चाँद"सा"जब कहा उनको,
तो कहने लगी....।
चाँद कहीए ना ये चाँद सा 
क्या है?


इस इश्क का
ताउम्र मुझे मलाल रहेगा,
हुआ ही क्यों था तुझसे
ये सवाल रहेगा.


कसूर उनका नहीं 
हमारा ही है जनाब,
हमारी चाहत ही इतनी थी
कि उनको गुरूर आ गया.

Shayari of rahat indori


अगर इश्क करना है तो
जात पूछकर करना,
महजबी झगड़ों में अक्सर
 मोहब्बत हार जाती है.


बात इतनी सी थी 
कि तुम अच्छे लगते थे,
अब इतनी बढ़ गई कि
तुम बिन कुछ अच्छा नहीं लगता.


वास्ता नहीं रखना तो 
नजर क्यों रखते हो,
किस हाल में जिंदा हूँ 
खबर क्यों रखते हो.


किसी पर मर जाने से 
शुरू होती है मोहब्बत,
इश्क जिंदा लोगों का 
काम नहीं.


वो करीब तो बहुत है 
मगर कुछ दूरियों के साथ,
हम दोनों जी तो रहे है
 पर मजबूरियों के साथ.
'

Rahat indori shayari lyrics


डर ये भी है कि 
मैं तुम्हें खो ना दूं
सच ये भी है कि 
मैंने तुम्हें पाया ही नहीं.


हर इंसान उस इंसान की बात 
चुपचाप सुनता है,
   जिसे खोने का डर उसे 
सबसे ज्यादा होता है.


जिंदगी का सफर 
अक्सर ऐसा होता है,
पसंद कोई, किस्मत में कोई,
बातें किसी और से और दिल 
में कोई और होता है.


 इश्क और सुकुन...
अजी छोड़िए जनाब,
आप भी ना आग को 
घी से बुझा रहे है. 


अगर कोई जोर देकर पूछेगा 
हमारी मोहब्बत की कहानी,
तो हम भी धीरे से कहेंगे
 मुलाकात को तरस गए.

Rahat indori famous shayari


दोस्ती मोहताज हो सकती है
दो शख्स की,
पर इश्क तो एक तरफा ही 
 काफी है जनाब.


    माना लिखा नहीं खुदा ने
 तुझे तकदीर में मेरी,
फिर भी दिल को बहला लेता हूँ
 देखकर तस्वीर तेरी.

1 Comments

Please Do Not Enter Any Spam Link or Abuse Word in The Comment Box.

Post a Comment

Please Do Not Enter Any Spam Link or Abuse Word in The Comment Box.

Previous Post Next Post